चोरी करने एवं झूठ बोलने की आदत कैसे छोड़ें? जानिए 5 टिप्स

 

चोरी करने एवं झूठ बोलने की आदत कैसे छोड़ें? जानिए 5 टिप्स

चोरी करने एवं झूठ बोलने की आदत कैसे छोड़ें? जानिए 5 टिप्स
- आज के समय में बहुत सारे लोग ऐसे हैं जो काफी झूठ बोलना पसंद करते हैं और कई लोग ऐसे भी हैं जिनके अंदर चोरी करने की आदत होती है। झूठ बोलने एवं चोरी करने से आपको काफी नुकसान उठाना पड़ता है और साथ ही साथ समाज में आपकी इज्जत बिल्कुल ही कम हो जाती है। यदि आपके अंदर भी झूठ बोलने एवं चोरी करने की खराब आदत है और आप इस आदत को छोड़ना चाहते हैं तो यह आर्टिकल आपकी बहुत ही काम आ सकता है। क्योंकि इस आर्टिकल में हम आपको बताएंगे कि चोरी करने एवं झूठ बोलने की आदत कैसे छोड़ें?

हमेशा हमें बचपन में यह सिखाया जाता है कि चोरी करना एवं झूठ बोलना काफी बुरी बात है। कई चोरों एवं झूठ बोलने वाले लोगों की यह दलील होती है कि उन्होंने मजबूरी में यह काम किया है। लेकिन यदि आप मजबूरी में चोरी कर सकते हैं या झूठ बोल सकते हैं तो, इससे बेहतर यह है कि आप किसी काम को करें और सच्चाई के साथ आगे बढ़े। सच्चाई की राह थोड़ी मुश्किल जरूर होती है लेकिन यह आपके आत्मविश्वास को हमेशा मजबूत रखती है और समाज में सर उठा कर चलने का जज्बा देती है। अब हम आपको चोरी करने एवं झूठ बोलने की आदत छोड़ने के 5 टिप्स बताएंगे।

1. संतोष रखें

अक्सर एक कहावत कही जाती है कि किसी व्यक्ति को उतना ही पैर पसारना चाहिए जितनी बड़ी उसकी चादर हो। कहावत का अर्थ यह है कि इंसान को उतने में ही खुश रहना चाहिए जितना उसके पास संसाधन हूं। बहुत सारे लोग ऐसे हैं जिनके पास कम पैसे होते हैं लेकिन वह लग्जरी लाइफ जीना चाहते हैं। इसके लिए वे फ्रॉड या चोरी जैसा गलत काम करते हैं। फ्रॉड या चोरी करके आप कुछ समय के लिए पैसे तो इकट्ठा कर सकते हैं लेकिन यदि इसके बारे में किसी को जानकारी होती है तो आप उसके नजरों में गिर जाते हैं।

Read More - आदर्श दिनचर्या कैसे अपनाएं? जानिए 5 शानदार टिप्स

चोरी करने वाले एवं झूठ बोलने वाले व्यक्ति की इज्जत कहीं पर नहीं होती है। हालांकि आज के समय में झूठ बोलने वालों की संख्या काफी बढ़ गई है लेकिन यदि आप सच्चाई के साथ रहते हैं और हमेशा सच बोलते हैं तो भले ही तुरंत आपकी बात किसी को कड़वी लग जाए लेकिन एक सही समय पर उसे आपकी बात जरूर समझ में आएगी और वह आप की कही बात से सहमत हो जाएगा।

2. किसी से खुद की तुलना ना करें

बहुत सारे लोग ऐसे होते हैं जो अपने आस-पड़ोस के किसी व्यक्ति को देखकर खुद से तुलना करना शुरू कर देते हैं और उनके जैसा बनना चाहते हैं। आप जिस जगह पर रहते होंगे उस जगह पर कई सारे अमीर लोग एवं कई सारे गरीब लोग रहते होंगे। लेकिन अक्सर चोरी करने वाले लोगों का ध्यान सिर्फ अमीर लोगों पर जाता है और वे उनकी बराबरी करना चाहते हैं।

चोरी करने वाले व्यक्तियों की सबसे बड़ी कमजोरी यह है कि वह किसी बड़े व्यक्ति के जैसा काम करके उस मुकाम को नहीं हासिल करना चाहते हैं बल्कि कोई फ्रॉड या चोरी करके उसके जैसा बनना चाहते हैं। फ्रॉड या चोरी करके आप कुछ समय के लिए अमीर तो बन सकते हैं, लेकिन उसके जैसी इज्जत नहीं पा सकते हैं और आजीवन अमीर नहीं बन सकते हैं।

3. आवश्यकताओं पर ध्यान दें

आज के समय में सबकी इच्छा होती है कि वह इतना अमीर बन जाए कि दुनिया में किसी भी चीज को खरीद सके। लेकिन इसके लिए कड़ी मेहनत के साथ ही साथ ज्ञान एवं पूंजी के निवेश की आवश्यकता पड़ती है। अक्सर बहुत सारे लोगों की इच्छा शक्ति काफी अधिक होती है इसके लिए वे फ्रॉड का काम करना या चोरी करना शुरू कर देते हैं। इसके लिए वे कई सारे झूठ भी बोलते हैं। लेकिन यदि आप झूठ बोलना या चोरी करना बंद करना चाहते हैं और यह आदत छोड़ना चाहते हैं तो इसके लिए आपको आवश्यकता ओं पर ध्यान देना बहुत ही जरूरी है। 

यदि आप अपनी आवश्यकताओं की पूर्ति करेंगे तो आप निश्चित ही अपने जीवन में खुश रह पाएंगे और आपको कभी भी चोरी करने या झूठ बोलने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी। लेकिन आवश्यक चीजों के अलावा आपकी इच्छा शक्ति कुछ और है तो फिर आप निश्चित ही अपनी इच्छा शक्ति के अनुसार किसी चीज को पाने के लिए झूठ बोलने या चोरी करने जैसा घिनौना काम करेंगे।

4. सच बोलें

यदि आप अपने जीवन में हमेशा सच बोलते हैं और हमेशा सच का साथ देते हैं तो आप झूठ और चोरी जैसे गलत काम करने से बच पाएंगे। हालांकि सच की राह काफी कठिन है और इसके चलते आपके कई लोगों से संबंध भी खराब हो सकते हैं। लेकिन किसी व्यक्ति से संबंध खराब होने के चक्कर में यदि आप कदम कदम पर झूठ बोलते रहेंगे तो यह आपके लिए काफी नुकसानदायक रहेगा।

झूठ बोलने वाले व्यक्ति का आत्मविश्वास हमेशा कमजोर रहता है और उसे छोटी छोटी चीजों से डर लगता रहता है कि कहीं उसका झूठ पकड़ा न जाए। ठीक इसी तरह चोरी करने वाले व्यक्ति के भी मन में हमेशा डर रहता है कि कहीं उसकी चोरी पकड़ी ना जाए। क्योंकि यदि आप की चोरी पकड़ी जाती है तो इससे समाज में आपकी इज्जत बिल्कुल ही खराब हो जाती है।

5. गलतियों का पश्चाताप करें

यदि आप से अनजाने वश में झूठ बोलने कुछ छुपाने या चोरी करने की कोई गलती हो गई है तो अपने इन गलतियों का पश्चाताप करें और इसके बारे में अपने किसी शुभचिंतक को बताएं। यदि आप इन गलतियों के बारे में अपने किसी शुभचिंतक को बताते हैं तो वह आपको इसके बारे में अच्छी तरह से समझ आएगा और दोबारा इस काम को न करने की सलाह देगा। 

लेकिन यदि आप किसी शुभचिंतक के सामने ना कह कर किसी ऐसे व्यक्ति के सामने कहते हैं जिसकी सोच नकारात्मक हो तो हो सकता है कि वह उस काम को करने के लिए आपको दोबारा प्रेरित करें। इस तरह से आप कभी भी झूठ बोलने और चोरी करने की आदत को नहीं छोड़ पाएंगे। लेकिन शुभचिंतक व्यक्ति हमेशा आपके इस काम को गलत कहेगा और दोबारा चोरी करने या झूठ बोलने की सलाह नहीं देगा। इस तरह से आप झूठ बोलने एवं चोरी करने की आदत को छोड़ सकते हैं।




Previous
Next Post »

Hello Friends,Post kaisi lagi jarur bataye aur post share jarur kare. ConversionConversion EmoticonEmoticon